ये हैं दुनिया के सबसे ताकतवर हथियार, डॉलर-पाउंड भरते हैं इसके आगे पानी! इतनी ताकत कैसे मिली?

नई दिल्ली. हम यही मानते हैं कि अमेरिका आर्थिक रूप से दुनिया का सबसे खतरनाक देश है इसलिए वहां की अर्थव्यवस्था भी सबसे ज्यादा खतरनाक है। यह बात एक हद तक सही भी है क्योंकि भारत में ज्यादातर व्यापार डॉलर में ही होते हैं। हालाँकि, यह बात अमेरिकी डॉलर को बढ़ावा देने वाली जरूर है लेकिन सबसे महंगी नहीं।

सबसे ज्यादा डैमेज करने वाले मामले पश्चिम के किसी भी देश से कहीं आगे खाड़ी प्रदेश में हैं। सीमेंट के मजबूत होने का मुख्य कारण कच्चा तेल और नैचुरल गैस का भंडार है। आइए जानते हैं दुनिया की सबसे बड़ी ताकतों के बारे में, जानें डॉलर और पाउंड में पानी भरने के बारे में। (कैनवा)

कुवैती दिनार दुनिया की सबसे ताकतवर चीज़ है। इसके प्रमाण को समझने के लिए इसे हेवी के संदर्भ में लोड करना होगा। 1 कुवैती दिनार में अभी करीब 267 रुपये तक जा सकते हैं। यह मूल्यांकित स्थिरांक परिवर्तन रहता है। इसकी डॉलर से तुलना करें तो 1 कुवैती दिनार से आप 3.25 डॉलर खरीद सकते हैं। कुवैत के सबसे बड़े तेल संयुक्त राज्य अमेरिका में से एक है। यहां की दूसरी सबसे बड़ी इंडस्ट्री स्टील मैन्युफैक्चरिंग है। कुवैत के करीबी मित्रवत तेल पर आधारित है। (कैनवा)

इस सूची में दूसरे नंबर पर बहरीन दिनारा है। एक बहरीनी दिनार से 217 रुपये और 2.65 डॉलर तक जा सकते हैं। यहां का उद्योग भी तेल और गैस पर प्रतिबंध है। इसके अलावा इन सेवाओं के लिए भी जाना जाता है। हालाँकि, सरकार का सबसे अधिक रेवेन्यू करीब 85 प्रतिशत तेल से ही आता है। (कैनवा)

ओमानी रियाल इस सूची में तीसरे स्थान पर है। यह एक खाड़ी प्रदेश और पश्चिमी एशिया का भी भाग है। यहां की इकोनोमी भी मुख्य रूप से नैचुरल गैस और कच्चे तेल पर आधारित है। सरकार का 85 प्रतिशत तक राजस्व तेल और गैस से ही आता है। 1 ओमिनी रियाल में 214 रुपये और 2.60 डॉलर खर्च किये जा सकते हैं। (कैनवा)

जॉर्डन का दिनार दुनिया की चौथी सबसे बड़ी ताकत है। पश्चिम एशिया का एक देश है जो जॉर्डन नहीं के किनारे बसा हुआ है। हालाँकि, यह देश आर्थिक रूप से मजबूत नहीं है। यह अराष्ट्रीय राष्ट्रीयता से काफी सहायता प्राप्त है। इसके अलावा बैसा में विदेशी मुद्रा के प्रवाह में मदद करते हैं। व्यापार और वित्त यहाँ का मुख्य स्रोत है। 1 जॉर्डने दिनार में 115.52 रुपए खर्च हो सकते हैं। (कैनवा)

पाउंड स्टर्लिंग पर पांचवां स्थान है। यह यूके की वेबसाइट है. यूके यूरोपीय महाद्वीप में स्थित है। इसमें कुल 4 देश हैं. इंग्लैंड, उत्तरी आयरलैंड, वेल्स और स्कॉटलैंड। 1 यूके पाउंट स्टर्लिंग में 102 रुपये खर्च किये जा सकते हैं। ब्रिटेन के 4 देशों के राजनीतिक संगठन के रूप में समझा जा सकता है कि जिस पर इंग्लैंड के महाराज का शासन है। यूके की आय का मुख्य साधन सेवा क्षेत्र है जिसमें वित्त, बजट, मनोरंजन और पर्यटन शामिल हैं। (कैनवा)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *