Fukrey 3 Review In Hindi Fukrey 3 Review Fukrey 3 Movie Review

फुकरे 3 मूवी रिव्यू: फुकरापंती का दिखेगा अलग लेवल, दिल लगाइएगा, दिमाग नहीं

Fukrey 3 Review in Hindi: जानें कैसी है फुकरे 3, पढ़ें रिव्यू

खास बातें

  • Fukrey 3 Review: जानें कैसी है फुकरे 3
  • मृगदीप सिंह लांबा ने डायरेक्ट की है फुकरे 3
  • पुलकित सम्राट, पंकज त्रिपाठी, वरुण शर्मा, मनजोत सिंह, ऋचा चड्ढा हैं एक्टर

नई दिल्ली:

Fukrey 3 Review in Hindi: फुकरे साल 2013. फुकरे रिटर्न्स साल 2018. फुकरे 3 साल 2023. डायरेक्टर मृगदीप सिंह लांबा. कलाकार, वरुण शर्मा, पुलकित सम्राट, मनजोत सिंह, ऋचा चड्ढा और पंकज त्रिपाठी. इस तरह पिछले दस साल से चली आ रही इस फिल्म फ्रेंचाइजी में कुछ नहीं बदला है. यही इस फ्रेंचाइजी की सबसे बड़ी खासियत भी है. समय के साथ कहानी कहने का अंदाज बदलता गया, और यही बात फुकरे 3 में नजर आती है. फिल्म में वनलाइनर हैं. फ्रेंचाइजी की जान चूचा है. पंडितजी के स्टोन फेस के साथ वनलाइनर करने का अंदाज यादगार है. साथ में नजर आती है भोली पंजाबन, लेकिन इस बार सॉफ्ट अंदाज में. कुछ इस तरह फुकरे 3 को गढ़ा गया है. आइए जानते हैं कैसी हैं फुकरे 3…

फुकरे 3 की कहानी

फुकरे 3 की कहानी वरुण, पुलकित और मनजोत की है. वह पिछले पार्ट से आगे बढ़ते हैं और जिंदगी में एक नई शुरुआत करते हैं. लेकिन इस शुरुआत में कामयाबी उनके हाथ नहीं लगती है. वहीं भोली पंजाबन अपना रुतबा बढ़ाने के लिए चुनाव लड़ने की तैयारी करती है. अब जनता के बीच पैठ बिठाने के लिए फुकरों से बढ़िया क्या हो सकता है. लेकिन वहीं फुकरों को भी अपनी काबिलियत का एहसास होता है. इस तरह वो भी भोली को टक्कर देने की ठान बैठते हैं. इस तरह फुकरे 3 की कहानी इसी को लेकर है कि क्या फुकरे खुद को साबित कर पाते हैं. इस बार देजा चू उनकी कैसे मदद करता है और वह किस तरह कुछ अच्छा कर पाते हैं. फिल्म के वनलाइनर बढ़िया लगते हैं. कहानी को सिम्पल रखा गया है. लेकिन कॉमेडी फिल्म को ढाई घंटे की रखना किसी रिस्क से कम नहीं है और इसी चक्कर में फिल्म के डायरेक्टर फंस जाते हैं. पहला हाफ मजेदार है. सेकंड हाफ में मैसेज आ जाता है और फिल्म खिंच जाती है. वनलाइनर भी रिपीट से लगते हैं. इस तरह सेकंड हाफ फुकरे 3 को नुकसान पहुंचाता है. 

फुकरे 3 का डायरेक्शन

मृगदीप सिंह लांबा शुरू से ही फुकरे को डायरेक्टर रहे हैं. इस बार भी उन्होंने अच्छे से अपनी जिम्मेदारी को निभाया है. किरदारों को थामे रखा है. लेकिन एक बात जो समझ नहीं आती है, वो यह कि फिल्म के जरिये मैसेज देने की क्या जरूरत थी. ठीक है, मैसेज देना अच्छी बात है. मैसेज भी अच्छा है, लेकिन कॉमेडी फिल्म को कॉमेडी ही रहने दो. मैसेज ठूंसने की क्या जरूरत है. उसके बाद डायलॉग भी फर्स्ट हाफ के बाद रिपीट लगते हैं. यही बातें फिल्म के फ्लो को तोड़ती हैं. 

फुकरे 3 एक्टिंग

एक्टिंग में वरुण शर्मा का कोई तोड़ नहीं. जिस तरह से चूचा का किरदार वरुण ने निभाया है वह तारीफ के काबिल है. इस कैरेक्टर में वरुण बहुत ही नेचुरल लगते हैं. इसके बाद पंकज त्रिपाठी का नंबर आता है. पंडितजी का किरदार उनपर खूब फबता है. स्टोन फेस के साथ जिस तरह वनलाइनर दागते हैं, ये बात चेहरे पर मुस्कान छोड़ जाती है. फिल्म के बाकी सितारों पुलकित सम्राट, मनजोत सिंह और ऋचा चड्ढा ने भी अच्छा काम किया है. 

फुकरे 3 वर्डिक्ट

फुकरे 3 कॉमेडी फिल्म है जिसके साथ मैसेज भी पिरोने की कोशिश की गई है. यही बात खटकती है. फिल्म की लंबाई ज्यादा है. वनलाइनर फर्स्ट हाफ के बाद पकाते हैं. वरुण और पंकज की जोरदार कॉमेडी है. पुरानी फुकरे का भरपूर कनेक्शन है. इस तरह फुकरे 3 वनटाइम वॉच मूवी है. 

रेटिंग: 3/5 स्टार
डायरेक्टर: मृगदीप सिंह लांबा
कलाकार: वरुण शर्मा, पुलकित सम्राट, मनजोत सिंह, ऋचा चड्ढा और पंकज त्रिपाठी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *