ताश के पत्तो में चार बादशाहों में से एक के नही होती मूंछें, कारण सुनकर तो आप भी नही करेंगे यकीन

बहुत से लोगों ने ताश खेला होगा। ताश का खेल अक्सर त्योहारों पर या किसी पार्टी में मनोरंजन के तौर पर खेला जाता है। ताश के पत्तों से खेले जाने वाले खेलों में सबसे अधिक लोकप्रिय हैं ब्लफ, रमी और पोकर। ताश में 52 पत्ते होते हैं भले ही किसी ने कभी नहीं खेला होगा। स्कूल में प्रॉबेबिलिटी के पाठ्यक्रम में सिर्फ इतना बताया जाता है। ताश के पत्तों में हुकुम, चिड़ी और पान भी होते हैं। इसमें चार सूट हैं, हर सूट में तेरह-तेरह पत्ते हैं। जो इक्का, दुक्की, तिक्की से नहला और दहला तक हैं। बादशाह, बेगम और गुलाम भी इसमें शामिल हैं।

ताश के पत्तों को ध्यान से देखने पर आपको कुछ अलग लगेगा। ताश के पत्तों में रहने वाले चार बादशाहों में से एक की मूछें नहीं होती। ठीक है, हम लाल पान के राजा की बात कर रहे हैं। अब आखिर ऐसा क्यों होता है? हम इसके पीछे की कहानी बताते हैं।

क्यों नहीं है लाल पान के बादशाह को मूंछ?

यह कहा जाता है कि इस खेल की शुरुआत में लाल पान के बादशाह के पास भी मूंछ हुआ करती थी। जब ये कार्ड फिर से बनाए गए तो डिजाइनर ने बादशाह की मूंछ बनाना भूल गया। तब से आज तक, ताश की गड्डियों में यह राजा बिना मूंछ के ही दिखाई देता है। अब सवाल उठता है कि इस गलती को क्यों नहीं सुधारा गया?

इसलिए नहीं सुधारी गलती

यह कहा जाता है कि लाल पान के राजा, यानी किंग ऑफ हार्ट्स, असल में फ्रांसीसी राजा शारलेमन हैं, जो डिजाइनर की इस गलती को नहीं सुधार पाया है। ये बहुत सुंदर और आकर्षक थे। ऐसे में, उनको अन्य राजाओं से अलग और आकर्षक दिखाने के लिए यह भूल गलत थी।

ये चार बादशाह हैं, जो ताश के पत्तों पर हैं।

लाल पान का बादशाह : लाल पान के बादशाह की चर्चा सबसे पहले होगी। इस पत्ते पर फ्रांस के राजा शारलेमेन का चित्र है। जो रोमन साम्राज्य का प्रथम शासक था।

हुकुमशाह: इस पत्ते पर किंग डेविड की प्रतिकृति है। किंग डेविड एक समय इजरायल का राजा था।

ईंट का राजा: ताश के इस पत्ते पर रोमन राजा सीजर ऑगस्टस का चित्र है।

चिड़ी का राजा: इस पत्ते पर मेसोडोनिया के राजा सिकंदर महान की चित्रण है।
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *