Delhi LG Vinai Saxena Big Gift To Delhi Ramlila Committees, Orders To Reduce Security Rates By Rs 20 Ann

Delhi News: देश की राजधानी दिल्ली नहीं, बल्कि देशभर में नवरात्रि आने मात्र से ही लोगों के बीच पूरा वातावरण भक्तिमय हो जाता है. बच्चों से लेकर बुजुर्गों में रामलीला मंचन देखने का उत्साह बढ़ जाता है. शाम से देर रात तक मंचन होने वाली रामलीला और वहां लगे मेले का आनंद बच्चों, महिलाओं और बुजुर्गों के बीच भी देखा जाता है. सभी लोग पूरी तन्मयता के साथ मां दुर्गा की आराधना में लगे रहते हैं. 

दूसरी तरफ बढ़ती मंहगाई के कारण दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में सालों से नवरात्रि के अवसर पर रामलीला का मंचन करवाने वाली कमेटी रामलीला और मेले के अयोजन करने से बचने लगे हैं. रामलीला का आयोजन करने में सबसे बड़ी वजह सुरक्षा और DDA पार्क में आयोजन का खर्च है. रामलीला कमेटी के लोग लगातार LG से मांग करते आए हैं कि सुरक्षा दर कम किए जाएं और DDA पार्क के किराए में भी कमी की जाय. रामलीला का मंचन और साथ बच्चों के लिए लगायें जाने वाले मेले पर खर्च कम हो. 

कई कमेटियों ने LG से की थी ये मांग 

दिल्ली की रामलीला कमेटियों की लंबे समय से चली आ रही मांगों को लेकर दिल्ली धार्मिक महासंघ का एक प्रतिनिधिमंडल दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा के नेतृत्व में दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना से मिला और उनका अभिनंदन करने के बाद एक ज्ञापन सौंपा. प्रतिनिधिमंडल में वीरेन्द्र सचदेवा, राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ के प्रांत संचालक कुलभूषण आहूजा, सांसद प्रवेश साहिब सिंह के आलावा दिल्ली की प्रमुख रामलीला कमेटियों से जुड़े धीरजधर गुप्ता, अशोक गोयल, अर्जुन कुमार, सुभाष गोयल, राजेश गहलोत, महेंद्र नागपाल, पूर्व मेयर रह चुके नरेन्द्र चावला, गुलशन समेत दर्जन भर लोग शामिल थे. मुलाकात के दौरान कमेटी के सदस्यों ने अपनी विभिन्न मांगों की लिस्ट में शामिल दो प्रमुख मांग रामलीला कमेटियों की ग्राऊंड सिक्योरिटी दरें कम करना और कमेटियों को उपलब्ध ग्राऊंड भूमी का 40% हिस्से का उपयोग भोजन एवं मनोरंजन क्षेत्र के रूप मे उपयोग करने देने की थी. 

सिक्योरिटी दरें  20 रूपये कम करने का आदेश

दिल्ली के एलजी विनय सक्सेना ने बीजेपी नेता और रामलीला कमेटी की मांगों पर गंभीरता से विचार करते हुए सिक्योरिटी दरें आधे से भी कम करने का आदेश दिया है. एलजी के आदेश के बाद अब सिक्योरिटी दरें 45 रूपये वर्ग मीटर से घटा कर 20 रूपये कर दिया गया है. साथ ही उपलब्ध भूमि का 40% हिस्सा मनोरंजन क्षेत्र के रूप मे उपयोग करने की भी इजाजत दी है.

लोगों ने LG के फैसले पर जताई खुशी

LG द्वारा मिली राहत के बाद रामलीला मंचन करने वाले आयोजकों ने LG का धन्यवाद करते हुए कहां कि अब दिल्ली के कोने-कोने में रामलीला का मंचन आसानी से होगा, क्योंकि इस आयोजन में सबसे ज्यादा खर्च रामलीला ग्राउंड में आये लोगों की सुरक्षा और DDA पार्क का किराया था, जिसे LG साहब ने उसमें बड़ी राहत दी है. राहत मिलने के बाद अब रामलीला मंचन करवाने और वहां आने वाले लोगों की सुरक्षा के साथ उनके लिए मनोरंजन की विशेष व्यवस्था सस्ते दामों पर मुहैया कराने में आसानी होगी.

यह भी पढ़ें: Delhi Politics: अरविंदर सिंह ने BJP-AAP पर साधा निशाना, कहा- ‘ दोनों दिल्ली के विकास में बड़ी बाधा’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *